To Her Daughter.!! | DILKASH SHAYARI

 

About DILKASH SHAYARI

“Everyone Thinks Changing The World,But No One Thinks Of Changing Himself” I’m Brahmin. Lawyer,Poet,Writer….. All Copy Right is Reserved

 

Phool-Si Nazuk Hai Tu,

  Phool Samajh Pala-Pausa Tujh Ko.!

  Jaane Kaisa Ghar Milega,

  Khush Rahe Har Pal Duaa Tujh Ko.!!

 

     फूल-सी नाज़ुक है तू,
     फूल समझ पाला-पैसा तुझ को.!
     जाने कैसा घर मिलेगा,
     खुश रहे  हर  पल  दुआ  तुझ को.!!

 

माँ-बाप बड़ी शिद्दत से अपनी बेटी को पालते-पोस्ते हैं!नाज़-नखरों से,एक दिन यही बेटी किसी गैर घर की अमानत हो जायेगी हर पल उनको इसकी चिंता रहती है,कैसी होगी उसकी आगे की ज़िन्दगी यही चिंता मात-पिता को बिट…

Source: To Her Daughter.!! | DILKASH SHAYARI

Advertisements